Rafale India भारत के पहले राफेल स्क्वाड्रन के साथ असम का क्या है कनेक्शन?

Rafale India भारत के पहले राफेल स्क्वाड्रन के साथ असम का क्या है कनेक्शन?

29 July 2020 0 By Hani Jain

Rafale India का असम कनेक्शन

हनी झांझरी। इस वक्त सारी दुनिया की नजर फ्रांस से भारत के लिए उडान भरने वाले 5 राफेल विमानाें पर टिकी हुई हैं।

भारत के इस पहले राफेल स्क्वाड्रन काे देश की वायु सेना की ताकत के साथ जाेडकर देखा जा रहा है।

rafale india
Rafale India

इसी बीच इस अत्याधुनिक युद्ध विमान के साथ असम का भी एक कनेक्शन जुड चुका है, जिसके बारे में सुनकर आप भी गाैरवान्वित हाे जायेंगे।

दरअसर, पहले राफेल स्क्वाड्रन (Rafale India) के पैच डिजाइन के पीछे असम का एक हाेनहार युवक है।

इस युवक नाम है साैरभ चाैरडिया, जाे कि असम के चिरांग जिले के बसुगांव के रहने वाला है।

जब राफेल विमानाें का स्क्वाड्रन भारतीय वायु सेना में शामिल हाेगा, तभी यह पैच भी अस्तित्व में आ आयेगा।

क्या हाेता है पैच?

कहने काे ताे पैच महज कपड़े का एक टुकड़ा हाेता है, लेकिन यह पायलटाें के दिल के बहुत करीब रहता है और इसलिए इसे डिजाइन करने के लिए भी बहुत सारे मापदंड हाेते हैं।

पैच ज्यादातर पायलटों द्वारा उनकी फ्लाइंग ड्रेस में लगा हाेता हैं और दुनिया भर में एक ट्रेंड में पहने जाता है।

एक पैच में आमतौर पर वे विमान होते हैं जो वे उड़ान भरते हैं और यूनिट नंबर भी उसमें उल्लेखित रहते हैं।

इसमें उनका गौरवशाली इतिहास भी शामिल है जो मनोबल को बढ़ाने में मदद करता है।

राफेल से पहले उन्हाेंने तेजस स्क्वाड्रन और सूर्य किरण एरोबेटिक टीम जैसी अन्य इकाइयों के लिए भी पैच तैयार किए हैं।

इस संवाददाता से बातचीत के दाैरान उन्होंने कहा, “मुझे वायुसेना की स्क्वाड्रन के लिए विशेष रूप से एक पैच डिजाइन करने के लिए कार्यभार सौंपा गया था, जिसे मैंने समयानुसार पूरा किया।

उन्हाेंने कहा कि पिछले साल प्रतिरक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के फ्रांस जाने से पहले, स्क्वाड्रन ने मुझे यह जिम्मेदारी साैंपी थी।

राफेल स्क्वाड्रान के इस पैच में भारतीय वायु सेना के लाेगाे के साथ ही गोल्डन एरो, हिमालयन ईगल और राफेल जेट व भारतीय रंग भी शामिल हैं।

आपकाे बता दें कि राफेल फाइटर जेट जल्द ही भारतीय वायु सेना में शामिल होने जा रहे हैं।

ये फाइटर जेट वायु सेना की मारक क्षमता को और मजबूत करने की क्षमता रखते हैं।

ये फाइटर जेट कल भारत के लिए फ्रांस से रवाना हो गए हैं और 29 जुलाई को अंबाला में भारत पहुंचने के बाद जल्द ही भारतीय वायु सेना के नए 17 वें स्क्वाड्रन का हिस्सा होंगे।

বায়ুসেনাৰ ৰাফেল যুদ্ধ বিমানৰ সৈতে অসমৰ কি সম্পৰ্ক আছে জানেনে?